Para Commando Kaise Bane – स्पेशल फ़ोर्स में पैरा कंमांडो कैसे बनते हैं?

0

भारतीय सेना join करके देश के लिए सेवा देना गर्व की बात होती है। भारतीय सेना की parachute regiment की special force की unit को para commando कहते हैं। Para commandos ने कई सफल operations कर India का नाम रौशन किया है। आइए बताते हैं कि para commando kaise bane और कैसे देश के लिए दें योगदान।

Para Commando Kaise Bane

Para Commando कौन होते हैं?

Para commando Indian army की parachute regiment की special forces unit होती है। Para commando को special operations, direct action, hostage problem, anti-terrorist operations, unconventional attacks, special reconnaissance operations, आदि जैसे सबसे मुश्किल काम को अंजाम देते हैं। Para commando की तरह navy के पास भी MARCOS और air force के पास garud commando होते हैं। यह देश के कई महत्वपूर्ण operations को सफलतापूर्वक पूरा कर चुके हैं।

पैरा कमांडो फोर्स क्या है

  1. पैरा कमांडो भारतीय सेना की पैराशूट रेजीमेंट की स्पेशल फोर्स की यूनिट होती है।
  2. पैरा कमांडो स्पेशल ऑपरेशन, डायरेक्ट एक्शन, बंधक समस्या, आतंकवाद विरोधी अभियान, गैरपरंपरागत हमले, विशेष टोही मुहिम, विदेश में आंतरिक सुरक्षा, विद्रोह को कुचलने, दुश्मन को तलाशने और तबाह करने जैसे सबसे मुश्किल काम करते हैं।
  3. ये स्‍पेशल फोर्स देश ही नहीं, विदेशों में भी कई बड़े ऑपरेशन को सफलतापूर्वक अंजाम दे चुकी है।
  4. सिर्फ डीजीएमओ से निर्देश : पैरा कमांडो अपने अभियान के दौरान सैन्य मुख्‍यालय (डीजीएमओ) से ही निर्देश प्राप्त करते हैं।
  5. इन्हें विभिन्न भौगोलिक परिस्थितियों के हिसाब से भी ट्रेनिंग दी जाती है।
  6. घाटी और पहाड़ों में अलग – अलग ट्रेनिंग दी जाती है, जबकि रेगिस्तानी इलाकों में मिशन को अंजाम देने के लिए अलग प्रशिक्षण दिया जाता है।

हमारे Telegram चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

How to Become Para Commando कैसे बनते हैं?

Para commando भारत की सबसे खतरनाक सेना की unit में से एक है। इस unit का गठन 1 जुलाई 1966 को हुआ था। इनका मुख्य उद्देश केवल देश में आंतरिक रूप से तथा बाहर से हमले करने वाले आतंकवादियों से देश को सुरक्षा प्रदान करना है। Para commando एक ऐसी ही सेना की टुकड़ी है जो पैराशूट लेकर चलती है। भारतीय सेना में para commando के लगभग 9 battalion है। वर्तमान समय में parachute regiment के वर्तमान Colonel Lt Gen Paramjit Singh Sangha हैं। Para commando make in two ways (पैरा कमांडो दो तरीकों से बनाते हैं)

Para commando बनने के लिए आपको भारतीय सेना की किसी भी battalion में एक जवान के रूप में शामिल होना होता है। जिसके बाद आपको para commando के अधिकारियों द्वारा चयनित किया जाता है। Para commando में भर्ती होने के लिए आपके पास दो विकल्प होते हैं। जिनमें पहला विकल्प सीधी भर्ती और दूसरा विकल्प भारतीय सेना द्वारा होता है।

Direct recruitment के द्वारा केवल army rallies का आयोजन करके योग्य उम्मीदवारों को ही training के लिए चयनित किया जाता है। इसके लिए उम्मीदवारों को शारीरिक रूप से बेहद मजबूत होना आवश्यक है। जबकि भारतीय आर्मी में जवान के पद पर रहते हुए para commando में join होने के लिए उम्मीदवार को पहले अपने regiment के commander से एक letter of recommendation लिखवाना होता है। जिसके बाद आप para commando के लिए चयनित किए जा सकते हैं।

जब आपका एक बार para commando के रूप में चयन हो जाता है। तो उसके बाद आपको training के दौर से गुजरना होता है। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सेना की training बेहद ही कठिन होती है, किंतु जब आप एक para commando बनते हैं तब आपकी training और भी खतरनाक हो जाती है। इस training के दौरान केवल 10% ही उम्मीदवार para commando के लिए योग्य होते हैं। Para commando को training के लिए कुल 3 महीने कमांडो सेंटर पर गुजारने होते हैं। लेकिन para commando स्पेशल फोर्स की training के लिए 6 महीने का समय लगता है। आइए आपको para commando के प्रत्येक दिन किए जाने वाले कार्यों के विषय में जानकारी देते हैं।

Check out: पुलिस कैसे बने? (Police Kaise Bane)?

पैरा कमांडो कैसे बनें (Para Commando Kaise Bane)

पैरा कमांडो का चयन दो प्रकार से होता है-
डायरेक्ट रिक्रूटमेंट
इंडियन आर्मी द्वारा

डायरेक्ट रिक्रूटमेंट: डायरेक्ट रिक्रूटमेंट के अंतर्गत जवानों को सिविल से आर्मी रैली द्वारा भर्ती किया जाता है|

  • आर्मी रैली पैरा (पैराशूट) कमांडो ट्रेनिंग सेन्टर बंगलोर में कराई जाती है, तथा वहां पर चयनित कैंडिडेट को पैरा कमांडो की कठिन ट्रेनिंग से गुजरना पड़ता है।
  • बंगलोर के अलावा अन्य स्थानों पर उत्कर्ष प्रदर्शन तथा शारीरिक मापदंड वाले जवानों को भी पैरा ट्रेनिंग सेन्टर में पैरा कमांडो की ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।

इंडियन आर्मी द्वारा : यदि भारतीय सेना में सर्विस कर रहे जवान पैरा रेजिमेंट में शामिल होना चाहता है, तो वह वालंटियर होकर आवेदन कर सकते है।

  • इसमें आवेदन करने के लिए जवान को अपने कमांडिंग अफसर की रिकमेन्डेशन लेटर लेनी होती है। किसी भी यूनिट का कमांडिंग अफसर उसी जवान को पैरा कंमांडो के लिए रिकमेंड करता है, जो फिजिकली तथा मेंटली रूप से स्वस्थ हो।
  • पैरा कमांडो बनने के लिए आपको सबसे पहले पैराट्रूपर होना होता है और पैरा कमांडो के लिए पैराट्रूपर होना बहुत जरूरी है।
  • para commando के लिए सबसे पहली परीक्षा होती है कि आपको पैराट्रूपर का टेस्ट क्लियर करना होता है।
  • पैराट्रूपर बनने के बाद ही पैरा कंमांडो स्पेशल फ़ोर्स एडवांस ट्रेनिंग के लिए आवेदन कर सकते है।

10% से कम ही जवान और युवा पैरा कमांडो बन पाते हैं जो कि इस परीक्षा को पास करते हैं इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इसकी ट्रेनिंग कितनी कठिन होती है।

Para Commando Selection Process 2022

Para commando selection process 2022 को समझने से उम्मीदवारों को यह निर्धारित करने में मदद मिलेगी कि पैरा कमांडो में कैसे शामिल हों। उम्मीदवारों के लिए selection process बेहद चुनौतीपूर्ण है और केवल सर्वश्रेष्ठ ही इसे पूरा कर सकते हैं। Para regiment में आवेदन करने वाले प्रत्येक सैनिक को ऐसा करने का अवसर नहीं मिलता। Para commando selection process को प्रेरित सैनिकों की भर्ती के लिए डिज़ाइन किया गया है जो स्वयंसेवा करते हैं। selection process के लिए सभी pre-test recruitment training course, या PRTC के अधिकारियों के बोर्ड द्वारा एआरओ स्थान पर आयोजित किए जाते हैं। 

हमारे Telegram चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

पैरा कमांडो चयन प्रक्रिया 2022 का विवरण दिया गया है:

  • Physical fitness test में सफलतापूर्वक 100% और written test में कम से कम 50% प्राप्त करने वाले उम्मीदवार para regiment में शामिल होने के लिए पात्र हैं। इन उम्मीदवारों को रेजिमेंट में चयन के लिए आगे के परीक्षणों के अधीन किया जाएगा।
  • यदि ये उम्मीदवार para regiment के लिए विशेष screening test में उत्तीर्ण नहीं होते हैं, तो उन्हें parent regiment में शामिल होने का आश्वासन दिया जाता है।

चयनित होने के इच्छुक स्वयंसेवकों को नीचे दिए गए विशेष शारीरिक परीक्षण को उत्तीर्ण करना होगा:

  • 5 किमी दौड़- 20 मिनट
  • Chin up- 14
  • Push up- 1 मिनट में 40 प्रतिनिधि
  • बैठो- 2 मिनट में 80 प्रतिनिधि
  • मीटर फेरबदल- 1 मिनट में 17 बार

इसके बाद चुने गए उम्मीदवारों को PRTC करना होगा। यदि उम्मीदवार PRTC में लक्ष्य मानकों को पूरा करने में असमर्थ हैं तो उन्हें मूल रेजिमेंट में आगे के प्रशिक्षण के लिए स्थानांतरित कर दिया जाएगा।

पैरा कमांडो Eligibility 2022

Para commando kaise bane इसके लिए para regiment में शामिल होने के संबंध में पहली आवश्यकताओं में से एक यह है कि आपको भारतीय सेना का सदस्य होना चाहिए। वहां के लिए, यदि कोई रिक्तियां उपलब्ध हैं, तो सैनिक पैरा रेजिमेंट के लिए आवेदन कर सकते हैं। Para commando eligibility 2022 इस प्रकार है:

राष्ट्रीयता – उम्मीदवारों को भारत का नागरिक होना चाहिए, या नेपाल या भूटान का विषय होना चाहिए, एक तिब्बती शरणार्थी जो 1 जनवरी, 1962 से पहले भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से, या भारतीय मूल का व्यक्ति जो प्रवास कर गया हो। भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से नीचे निर्दिष्ट देशों से।

आयु – उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम स्वीकार्य आयु 16.5 वर्ष है जबकि अधिकतम स्वीकार्य आयु 19.5 वर्ष रखी गई है।

वैवाहिक स्थिति – पैरा कमांडो भर्ती 2022 के लिए पात्र होने के लिए उम्मीदवारों को अविवाहित होना चाहिए। रिक्तियां केवल पुरुष उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध हैं।

शारीरिक माप – सेना, नौसेना और नौसेना अकादमी में शामिल होने के लिए उम्मीदवारों की ऊंचाई कम से कम 157 सेमी और वायु सेना में शामिल होने के लिए कम से कम 162.5 सेमी होनी चाहिए।

हमारे Telegram चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

Top Institutes

Para commando kaise bane में देश के top institutes के नाम इस प्रकार हैं। 

  • Guard Commando Force, New Delhi
  • Commando Training Academy, Hyderabad
  • Quarter Battle Training
  • Airforce Academy, Dundigal
  • The Counter Insurgency and Jungle Warfare School, Mizoram
  • Unconventional Commando Combat Academy

पैरा कमांडो ट्रेनिंग शेड्यूल (Para Commando Training Schedule)

  • किसी भी Para Commando का दिन की शुरुआत सुबह के 3:00 से 4:00 के बीच हो जाती है। प्रतिदिन उन्हें रोजाना शरीर पर 60 से 65 किलोग्राम का वजन लेकर 20 किलोमीटर तक दौड़ना होता है।
  • जब आप एक Para Commando मैं पैराट्रूपर्स की Training के लिए जाते हैं तो आपको आगरा के एयरफर्स Training स्कूल में Training दी जाती है। जहां पर जवानों को 33000 फुट से 50 बार जंप लगाने होते हैं।
  • इसके अतिरिक्त Para Commando को पानी में लड़ने की भी Training दी जाती है। इसके लिए जवानों को नौसेना के ड्राइविंग Training स्कूल कोच्चि में Training देनी होती है।
  • लगभग 1 महीने पश्चात उम्मीदवारों को शारीरिक रूप से तैयार करने के बाद जवानों को हथियार चलाने की Training दी जाती है।
  • समय के साथ-साथ कठिन परिस्थितियों से लड़ने एवं लोगों की मदद करने की Training भी सिखाई जाती है।
  • दुश्मनों से लड़ने के लिए जवानों को ताइकांडो का प्रशिक्षण भी दिया जाता है।
  • बेसिक Training पूर्ण होने के बाद इन्हें काम और Training को मिलाकर लगभग साढे 3 साल तक Training करनी होती है।
  • Para commando को दिए जाने वाले हथियार
  • जब एक जवान para commando की training पूर्ण कर लेता है। तो उसे para commando के विभाग की ओर से हथियार दिए जाते हैं। प्रत्येक para commando के पास निम्न प्रकार के हथियार पाए जाते हैं।
    1. Micro Uzi machine gun
    2. Beretta 2 automatic pistol
    3. PM med9 assault
    4. UK VZ 59L Light Machine Gun
    5. Siphon 12mm Rocket Launcher
    6. PKM Light Machine Gun

पैरा कमांडो की ट्रेनिंग (Training Of Para Commando)

पैरा कमांडो की ट्रेनिंग विश्व की सबसे खतरनाक ट्रेनिंग में से एक है। ट्रेनिंग कर रहे सिपाही और युवाओं में सिर्फ 10% सैनिक और युवा पैरा कमांडो बन पाते हैं।

  1. सैना की विभिन्न यूनिटों से इन जवानों का चयन किया जाता है।
  2. तीन महीने की कठिन परीक्षा के बाद इनका चयन किया जाता है। इस दौरान थकावट, मानसिक और शारीरिक यातना आदि सभी दौर से इन्हें गुजारा जाता है।
  3. शरीर पर 60 से 65 किलो वजन और 20 किलोमीटर की दौड़ से पैरा कमांडो के दिन की शुरुआत होती है।
  4. एक पैरा कमांडो की ट्रेनिंग काम के साथ-साथ साढ़े तीन साल तक चलती रहती है। उसके बाद भी वक्‍त के हिसाब से कमांडो को अपडेट किया जाता रहता है।
  5. एक पैरा कमांडो को साढ़े 33 हजार फुट की ऊंचाई से पैराशूट के साथ कम से कम 50 छलांग लगानी जरूरी होती हैं। एयरफोर्स के पैरा ट्रेनिंग स्‍कूल आगरा में इनका ट्रेनिंग सेंटर है।
  6. पानी में लडऩे के लिए नौ सेना डाइविंग स्‍कूल कोच्‍चि में ट्रेनिंग दी जाती है।
  7. ट्रेनिंग के दौरान ही करीब 90 प्रतिशत जवान ट्रेनिंग छोड़ जाते हैं।
  8. कई बार ट्रेनिंग के दौरान ही जवानों की मौत भी हो जाती है।
  9. पैरा कमांडो का सबसे अहम् हथियार उसका पैराशूट होता है। पैराशूट को आसमान में सही समय पर खोलने की ट्रेनिंग सबसे अहम् होती है।
  10. एक पैरा कमांडो के पास दो पैराशूट होते हैं। पहला पैराशूट जिसका वजन 15 किलोग्राम होता है, जबकि दूसरा रिजर्व पैराशूट जिसका वजन 5 किलोग्राम होता है। पैराशूट की कीमत 1 लाख से लेकर 2 लाख तक होती है।
  11. इन्हें हर एक तरह के हथियार को चलाने की ट्रेनिंग दी जाती है।
  12. इन्हें कठिन से कठिन प्राकृतिक परिस्थितियों में लड़ने की और लोगों की मदद करने की ट्रेनिंग दी जाती है।
  13. इसमें आप को अंधेरे में हथियार चलाने की भी ट्रेनिंग दी जाती है।
  14. पैरा कमांडो को इस प्रकार की कई तरह की कड़ी ट्रेनिंग से गुजरना होता है।

Para Commandos के Famous Operations

Indian para commandos की वीरता के किस्से यूं तो दुनिया में मशहूर हैं, विस्तार से डालते हैं सफल operations पर एक नज़र।

  1. Para commandos ने 1971 के युद्ध में अहम भूमिका निभाई थी, Indian para commandos की ताकत के आगे Pakistan के 90 हजार सैनिकों को surrender करना पड़ा था।
  2. जुलाई 1999 में Kashmir में Kargil की पहाडिय़ों पर Pakistan की फौज ने कब्जा कर लिया था। इस लड़ाई में Pakistan की army और आतंकवादियों के खिलाफ पैरा कमांडो का इस्‍तेमाल हुआ जिसके चलते एक बार फिर Pakistan को करारी हार का सामना करना पड़ा था।
  3. पैरा कमांडो ने जनवरी 2015 में Myanmar में घुसकर आतंकवादियों को मारा था।
  4. Manipur में उग्रवादियों के एक हमले में देश के 18 जवान शहीद हुए थे। पैरा कमांडो को बदला लेने के लिए यह काम सौंपा गया। इन कमांडो ने म्यांमार सीमा में घुसकर 38 उग्रवादियों को ढेर कर दिया। Independent India के इतिहास में यह पहला अवसर था जब Indian soldiers किसी दूसरे देश की सीमा में घुसकर आतंकियों का सफाया करने में सफल रहे थे।
  5. 2016 में आतंकवादियों ने Uri में हमारे कुछ जवानों को मार दिया था हमारे सिपाही की शहादत का बदला लेने के लिए पैरा कमांडो ने Pakistan के अंदर घुसकर surgical strike की थी और उन्होंने वहां जाकर आतंकवादियों को मार गिराया और आतंकवादियों के ठिकानों को नष्ट किया था।

हर हालात से निपटने में महारत (Master In Dealing With Every Situation)

  1. पैरा कमांडो को किसी भी तरह के हालात से निपटने में महारत हासिल होती है।
  2. एक और अहम् ट्रेनिंग है, दुश्मन पर नजदीक से घात लगाकर हमला करना। यह सबसे अधिक खतरनाक ट्रेनिंग है।
  3. घने जंगल के बीच में दुश्मन पर घात लगाकर हमला किया जाता है। इसके लिए नजदीक से दुश्मन पर गोली मारने की ट्रेनिंग काफी अहम् होती है।
  4. पैराशूट और हथियार का वजन मिलाकर एक कमांडो अपने साथ 40 से 50 किलोग्राम वजन ले जाता है।
  5. जब पैरा कमांडो को किसी स्पेशल ऑपरेशन को अंजाम देने जाते है, तो उसके लिए काफी तैयारी की जाती है।
  6. para commando training में आपको शारीरिक मानसिक थकावट और बहुत सारी मुश्किलों से गुजरना होता है जो सैनिक और युवा इन सारी मुश्किलों को पार करके अपने ट्रेनिंग पूरी कर लेता है उन्हें ही बलिदान पद का बिल्ला (badge) मिलता है और तब जाकर वह पैरा कमांडो बनते हैं।
  • ग्‍लोक-17, बैरोटा-92 और 1ए 9 एमएम सेमी ऑटोमैटिक पिस्‍टल, हैकलर और कोच एमपी5, 1ए एसएमजी सब मशीनगन
  • माइक्रो यूजी 9एमएम सब मशीनगन, टीएआर-21 टवोर असॉल्‍ट रायफल, एम4ए1 -कारबाइन, एमपीआई केएमएस-72-असॉल्‍ट रायफल, पीएमएमडी-90 असॉल्‍ट रायफल,वीएजेड-58 असॉल्‍ट रायफल, एसवीडी ड्रगोनोव सेमी ऑटोमैटिक स्‍निपर रायफल, आईएमआई गलिल स्‍निपर ऑटोमैटिक स्‍निपर रायफल, मऊसेर एसपी 66 बोल्‍ट एक्‍शन स्‍निपर रायफल, पीकेएम लाइट मशीनगन, यूके वीजेड-59एल लाइट मशीनगन, एमजी 2ए1 जनरल पर्पज मशीनगन,एजीएस ऑटोमैटिक ग्रेनेड लांचर, बी-300 शीपोन 82 एमएम रॉकेट लांचर
  • एक ऑपरेशन के दौरान पैरा कमांडो ध्रुव और चेतक हेलीकॉप्‍टर, सी-130 जे सुपर हरक्‍यूलिस विमान और सभी तरह के मैदानी वाहन इस्‍तेमाल करते हैं।

Para Commando की Salary

Para Commando Kaise Bane को उनके कार्य के according एक बेहद अच्छी सैलरी दी जाती है। Para Commando के जवानों को प्रतिवर्ष लगभग 10 लाख से अधिक की सैलरी मिलती है। इसके अतिरिक्त इन्हें सेना में दिए जाने वाले सभी सुविधाएं एवं लाभ दिए जाते हैं।

आशा करते हैं इस ब्लॉग से आपको para commando kaise bane के बारे में जानकारी प्राप्त हुई होगी। यहाँ पर हमनें पैरा कमांडो बननें और उनकी ट्रेनिंग के बारें में बताया। यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है।

FAQs – पैरा कमांडो फोर्स क्या है?

Army में पैरा कमांडो क्या होता है?

पैरा कमांडो को आमतौर पर Para स्कफ (special forces) के रूप में जाना जाता है, जो parachute regiment से जुड़ी Indian army की special operations unit है।

पैरा कमांडो की training कैसे होती है?

प्रतिदिन उन्हें रोजाना शरीर पर 60 से 65 किलोग्राम का वजन लेकर 20 किलोमीटर तक दौड़ना होता है। जब आप एक para commando में paratroopers की training के लिए जाते हैं तो आपको आगरा के एयरफर्स training स्कूल में training दी जाती है। जहां पर जवानों को 33000 फुट से 50 बार jump लगाने होते हैं।

पैरा कमांडो का salary कितनी होती है?

पैरा कमांडो के सैनिक को सालाना लगभग 10 लाख रुपये तक की सैलरी मिलती है तथा इसके अलावा और अन्य सुविधाएं भी प्राप्त होती हैं।

PARA SF का सिंहनाद (war cry) क्या है?

PARA SF का सिंहनाद (war cry): “तुम भारत के वीर हो, तुम अपने देश के रक्षक हो”

Para commandos को कितनी छुट्टियां मिलती हैं?

पैरा कमांडो को लगभग 30 दिनों की casual leave और दो महीने की annual leaves मिलती हैं।

Tags: Para Commando Kaise Bane पैरा कमांडो फोर्स क्या है How to Become Para Commando Para Commando Selection Process Para Commandos के Famous Operations Para Commando Kaise Bane पैरा कमांडो फोर्स क्या है How to Become Para Commando Para Commando Selection Process Para Commandos के Famous Operations

नवीनतम अपडेट के लिए जुड़ें:-

»जॉइन टेलीग्राम»Facebook ग्रुप
»Twitter ग्रुप»Linkedin ग्रुप
»Top Sena Bharti»Tumblr ग्रुप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here